Home Blog Page 3

कौन है हार्दिक पटेल की होने वाली बीवी किंजल पारिख, जानें कैसे शुरू हुई दोनों की लव स्टोरी !!

नमस्कार दोस्तों…बता दें कि गुजरात में पाटीदार आंदोलन के नेता और अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चाओं में रहने वाले हार्दिक पटेल फिर से सुर्खियों में है।

 

हालांकि इस बार उनके सुर्खियों में रहने की वजह सियासी ना होकर कुछ और है। दरअसल हार्दिक पटेल बहुत जल्द शादी के बंधन में बंधने जा रहे है।

आप को जानकारी के लिए बता दें कि हार्दिक आने वाली 27 जनवरी यानी आज से ठीक 6 दिन बाद अपनी मंगेतर और बचपन की दोस्त किंजल पारिख से शादी करने जा रहे है।

परिवार से जूडे सूत्रों की मानें तो दोनों की शादी बेहद साधारण तरीके से होगी। और इस में घर-परिवार से कुछ खास रिश्तेदार और दोस्त ही शामिल होंगे।

शादी के समारोह गुजरात में सुंदरगढ जिले के दिगसर दाणावाड गांव के एक मंदिर में रखा गया है। आइए जानते है कि कौन है हार्दिक की होने वाली पत्नी किंजल पारिख और कैसे शुरु हुई दोनों की लव स्टोरी ?

कैसे मिले हार्दिक-किंजल
बता दें कि हार्दिक के पिता भरत पटेल के मुताबिक, किंजल पारिख का परिवार मुल रुप से सुरत का रहने वाला है। लेकिन कुछ सालों पहले वे विरमगाम में आकर बस गए थे। किंजल कोमर्स ग्रेजुएट है, और फिलहाल गांधीनगर से लॉ की पढाई कर रही है।

परिवार से जुड़े लोगों ने बताया कि हार्दिक और किंजल काफी समय से एक दूसरे के बेहद अच्छे दोस्त हैं। दोनों का बचपन अहमदाबाद जिले के विरमगाम के चंदननगरी गांव में एक साथ गुजरा है। किंजल हार्दिक की बहन मोनिका के साथ ही पढ़ती थीं और शुरू से ही उनका हार्दिक के घर आना-जाना था। किंजल भी पाटीदार समुदाय से ही आती हैं।

क्या इंटर-कास्ट है दोनों की मैरिज?
ऐसा कहा जा रहा है कि यह अंतर्जातीय विवाह है, जबकि ऐसा नहीं है। किंजल पारिख पटेल हैं, जो पाटीदार समुदाय में ही आते हैं। उन्होंने बताया कि शादी समारोह बेहद सामान्य तरीके से होगा और इसमें दोनों तरफ से कुल मिलाकर 50 से 60 मेहमान ही हिस्सा लेंगे। परिवार के खास लोगों के बीच ही दोनों की शादी होगी।

ज्योतिषाचार्य ने की बड़ी भविष्यवाणी, इन 6 राशियों पर धनवर्षा का योग, ये रहें सावधान, जानें सभी का राशिफल !!

नमस्कार दोस्तों…आप तो जानते ही होंगे कि हिन्दू धर्म में ज्योतिष शास्त्र का एक अलग ही महत्व माना जाता है।हमारे सारे कार्य ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ही किए जाते है। ऐसे में ज्योतिष शास्त्र हमारे धर्म का एक अलग ही हिस्सा है।

 

आज हम आप को इस आर्टिकल में 6 ऐसी राशियों के बारे में बताने वाले है। जिन पर धनवर्षा का योग बन रहा है। तो आइए इस के बारे में विस्तार से जानते है।

(1) मेष
मेहनत का फल मिलेगा। सामाजिक कार्य करने में रुचि रहेगी। मान-सम्मान मिलेगा। कारोबार मनोनुकूल लाभ देगा। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से परिचय बढ़ेगा। किसी मनोरंजक यात्रा की योजना बनेगी। बुरे लोगों से दूर रहें।

(2) वृषभ
दूर से सुखद सूचना मिल सकती है। घर में मेहमानों का आगमन होगा। व्यय होगा। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। बड़ा काम करने का मन बनेगा। परिवार का सहयोग मिलेगा।

(3) मिथुन
नवीन वस्त्राभूषण की प्राप्ति पर व्यय होगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। नए मित्र बनेंगे।

(4) कर्क
पारिवारिक चिंता बनी रहेगी। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। आवश्यक वस्तु गुम हो सकती है। विवाद को बढ़ावा न दें। किसी व्यक्ति के उकसाने में न आएं। कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय भावना में बहकर न करें।

(5) सिंह
परिवार तथा मित्रों के साथ कोई मनोरंजक यात्रा का आयोजन हो सकता है। रुका हुआ पैसा मिलने का योग है। मित्रों के सहयोग से कार्य पूर्ण होंगे। नया कार्य प्रारंभ करने की योजना बनेगी।

(6) कन्या
कार्यस्थल पर परिवर्तन संभव है। योजना फलीभूत होगी। कारोबार में वृद्धि पर विचार हो सकता है। नौकरी में अधिकारीगण प्रसन्न रहेंगे। मातहतों का सहयोग मिलेगा। पारिवारिक चिंता बनी रहेगी।

(7) तुला
किसी धार्मिक स्थल की यात्रा की आयोजना हो सकती है। सत्संग का लाभ मिलेगा। पारिवारिक सहयोग मिलेगा। घर-बाहर सुख-शांति रहेगी। किसी प्रभावशाली व्यक्ति का मार्गदर्शन सहायता प्राप्त होगी।

(8) वृश्चिक
चोट व दुर्घटना से हानि संभव है। लापरवाही न करें। किसी व्यक्ति से व्यर्थ विवाद हो सकता है। मानसिक क्लेश होगा। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें।

(9) धनु
जल्दबाजी से काम बिगड़ेंगे तथा समस्या बढ़ सकती है। विरोध होगा। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। बाहर जाने की योजना बनेगी। किसी वरिष्ठ व्यक्ति का सहयोग कार्य में आसानी देगा।

(10) मकर
भूमि, भवन, दुकान, शोरूम व फैक्टरी इत्यादि की खरीद-फरोख्त हो सकती है। बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। विवाद को बढ़ावा न दें। कुसंगति से बचें।

(11) कुंभ
कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। कोई मांगलिक कार्य में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। स्वादिष्ट व्यंजनों का आनंद प्राप्त होगा।

(12) मीन
दूसरे से अधिक अपेक्षा करेंगे। जल्दबाजी से काम में बाधा उत्पन्न होगी। दौड़धूप अधिक रहेगी। बुरी सूचना मिल सकती है, धैर्य रखें। बनते कामों में देरी होगी। चिंता तथा तनाव रहेंगे।

भारत के इन 3 राजनेताओं ने अपनी बेटी की उम्र की लड़कियों से की है शादी, जानिए इन राजनेताओं के बारे में !!

नमस्कार दोस्तों…आप तो जानते ही होंगे कि भारत देश में बहुत ही कम ऐसे राजनेता है। जो अपनी ईमानदारी के साथ राजनीति करते है। ज्यादातर नेता भष्ट्राचार का ही सहारा लेता है।

 

लेकिन आज हम आप को इस आर्टिकल में भारत के तीनभारत के इन 3 राजनेताओं ने अपनी बेटी की उम्र की लड़कियों से की है शादी, जानिए इन राजनेताओं के बारे में !! बडे ऐसे राजनेताओं के बारे में बताने जा रहे है। जिन्होंने अपने से छोटी उम्र की लडकी और अपनी बेटी की उम्र की लडकी के साथ संबंध रखे है। इन राजनेताओं का नाम जानकर आप हैरान रह जाएंगे। तो आइए इस खबर के बारे में विस्तार से जानते है।

(1) नारायण दत्त तिवारी
आप को जानकारी के लिए बता दें कि अपनी उम्र से भी कम उम्र महिला से शादी करने वालों में पहला नाम कोंग्रेस के राजनेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का नाम आता है।

आप को बता दें कि इन्होंने 88 साल की उम्र में अपने 26 साल छोटी लडकी से शादी की थी। इन्होंने उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री पद संभालने के अलावा एक बार उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के रुप में भी काम किया है। इस के अलावा ये प्रधानमंत्री राजीव गांधी के कार्यकाल में विदेश मंत्री भी रहे थे।

(2) एचडी कुमारस्वामी
आप को बता दें कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगोडा के बेटे एच डी कुमारस्वामी भी अपनी उम्र में कम उम्र की लडकी के शादी करी थी। लेकिन बता दें कि ये उनकी दूसरी शादी थी।

और ये शादी उन्होंने फिल्म अभिनेत्री की है। और उनकी कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर आ रही है। बता दें कि इस साल के चुनाव के बाद एच डी कुमारस्वामी कर्नाटक के मुख्यनमंत्री बने है।

(3) दिग्विजय सिंह
आप को बता दें कि कोंग्रेस के एक बडे नेता और मध्य प्रदेश का एक ऐसा नेता जो मध्य प्रदेश की हर सीट से 15-20 कोंग्रेस कार्यकर्ताओं के नाम मुंह जबानी याद रखता है।

बता दें कि दिग्विजय सिंह ने भी अपने लव अफेयर और अपनी से छोटी उम्र की लडके साथ संबंध रखने के लिए मीडिया में कई सारी बार जगह बना चूके है। इन्होंने पत्रकार अमृता सिंह से शादी की है।

जानें जब अजीत डोभाल पाकिस्तान में पकड़े गए तो उन्होनें क्या किया !!

नमस्कार दोस्तों…आज हम आप को महान देशभक्त और सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल के बारे में बात करेंगे। अजीत डोभाल एक ऐसे जासूस थे। जो पाकिस्तान में 7 वर्ष रहे थे। एक गुप्तचर देश के लिए महान भूमिका अदा करता है।

 

यह भूमिका बहोत ही अतुलनीय होती है। अजीत डोभाल आज देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार है। बता दें कि डोभाल जी पाकिस्तान में पूरे 7 वर्ष तक मुसलमान बनकर रहे थे। उन्होंने इस दौरान कई महत्वपूर्ण जानकारियां देश को उपलब्ध करवाई थी।

आप को बता दें कि एक बार एक साक्षात्कार में उनसे पूछा गया कि आप इतने वर्ष पाकिस्तान में रहे क्या आपको कभी अति असहज स्थिति का भी सामना करना पड़ा, या आप पकड़े गए हो और या आपका भेद खुल गया हो। तो आइये जानते हैं अजीत जी ने इस विषय में क्या बताया ?

अजीत डोभाल जी ने उत्तर दिया कि एक बार जब लाहौर की मस्जिद से वो बाहर निकले तो मस्जिद में एक शख्स ने उनसे पूछा कि मुझे लगता है तुम हिंदू हो क्योंकि तुम्हारे कान छिदे हुए हैं।

उस व्यक्ति ने आगे कहा तुम्‍हारा यहाँ ऐसे घूमना ठीक नहीं है प्लास्टिक सर्जरी करवा लो नहीं तो मुसीबत में पड़ जाओगे। उस व्यक्ति ने आगे बताया कि वह भी हिंदू है। उसके परिवार वालों को पाकिस्तानियों ने मार दिया था।

वह आदमी अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए मुसलमान बनकर रह रहा था। उस आदमी ने अजीत डोभाल को भगवान शिव और दुर्गा की तस्वीर भी दिखाई थी।

साजिद खान ने मुझसे कुत्ते के साथ संबंध बनाने के लिए पूछा था, इस अभिनेत्री का खुलासा !!

नमस्कार दोस्तों…आप को जानकारी के लिए बता दें कि पिछले दिनों मी टू आंदोलन के लपेटे में आए बॉलीवुड फिल्म निर्माता साजिद खान एक बार फिर बुरी तरह से घिरते हुए नजर आ रहे है। इस बार उन पर चर्चित फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माय बुर्का’ की अभिनेत्री आहना कुमरा ने आरोप लगाया था।

 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आप को बता दें कि एक साक्षात्कार में आहना ने फिल्म इंडस्ट्री में होने वाले उत्पीडन पर बात करने के दौरान खुलासा किया। जिस ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री में हलचल सी मचा दी है।

फिल्म जगत में अपने संघर्ष पर बात करते हुए आहना ने कहा कि, फिल्मों में काम के लिए उन्हें काफी ऐसी चीजें फेस की। जो पहले कभी नहीं की थी।

बता दें कि इन दिनों देश भर में चल रहे #MeToo आंदोलन के बारे में आहना ने कहा है कि, ‘एक बार साजिद खान ने मुझे मैसेज किया और कहा कि तुम अधोवस्त्रों में भी हॉट दिखती हो।’

तब उन्होंने बताया कि, कास्टिंग मैनेजर लडकियों से बहुत ही बुरी तरह से पेश आते है। एक बार अनिर्बान ब्ला ने एक होटल की लॉबी में मुझसे कहा था कि यहां एक कमरा है चलो वहां बात करते हैं।

बता दें कि निर्माता-निर्देशक साजिद खान के बारे में बात करते हुए आहना ने बताया, ‘सलोनी ने जैसा लिखा है आपके साथ वैसा ही होता है। आपको साजिद के कमरे में भेजा जाता है और आपको वही देखना होता है जो वह देख रहे है। जब मैंने उनसे पूछा कि हम बाहर क्यों नहीं बैठते तो उन्होंने कहा कि वहां उनकी मां बैठी हैं और उन्हें दिक्कत क्यों दें।’

आहना ने बताया कि, ‘मैंने साजिद खान को यह भी बताया कि मेरी मां पुलिस अधिकारी हैं। शायद इसलिए वह मुझसे तमीज से पेश आए। लेकिन फिर भी उन्होंने मुझसे अजीब बातें की।

आहना ने खुलासा किया कि, उन्होंने मुझसे पूछा कि अगर मैं तुम्हें 100 करोड़ रुपये दूं तो तुम कुत्ते के साथ संबंध बना सकती हो।’

बाल ठाकरे ने संजय दत्त को इसलिए निकलवाया था जेल से बाहर, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप !!

नमस्कार दोस्तों…आप को जानकारी के लिए बता दें कि शिवसेना के प्रमुख और सुप्रीमो बाल ठाकरे के जीवन पर आधारित फिल्म का ट्रेलर रिलीज हो चूका है।

 

आप को बता दें कि इस ट्रेलर में एक जगह सन 1993 में मुंबई में बम सिलसिलेवार बम धमाकों का भी जिक्र किया गया है। आप को जानकर हैरानी होगी लेकिन बता दें कि शिवसेना के प्रमुख बाल ठाकरे ने संजय दत्त को भी जेल से बाहर निकलवाया है। इस की वजह जानकर आप हैरान ही रह जाएंगे। आइए इस खबर के बारे में विस्तार से जानते है।

संजय दत्त पर लगे थे बम धमाकों में शामिल होने के आरोप
आप को जानकारी के लिए बता दें कि सन 1993 में मुंबई में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में अभिनेता संजय दत्त का भी नाम आया था। इस वजह से उन्हें जेल भी जाना पडा था।

बाल ठाकरे ने निकलवाया था संजय दत्त को जेल से बाहर
बता दें कि जब संजय दत्त गैर कानूनी रूप से AK-56 रखने के आरोप में संजय दत्त जेल गए थे। तब उन्हें बाला साहेब ठाकरे ने जेल से बाहर निकलवाया था।

हालांकि उन्होंने संजय दत्त को जेल से बाहर निकलवाने से पहले उनके पिता सुनील दत्त से कहा था कि ये सब मैं आपके लिए कर रहा हूं। आपके बेटे के लिए नहीं।

बाल ठाकरे ने इस वजह से करवाया था संजय दत्त को रिहा
प्राप्त जानकारी के अनुसार बता दें कि बाल ठाकरे ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि जब संजय दत्त जेल में थे तो उनपर फिल्म इंडस्ट्री का काफी पैसा लगा हुआ था।

इसलिए प्रोड्यूसर्स उनके पास आए और उनसे संजय दत्त को जेल से बाहर निकलवाने की रिक्वेस्ट की। फिल्म इंडस्ट्री को नुकसान से बचाने के लिए ही बाल ठाकरे ने संजय दत्त को जेल से बाहर निकलवाने में मदद की थी।

21 तारीख की सुबह कमल के फूल की तरह खिल जाएगी इन राशियों की बंद किस्मत, मिलेगी बड़ी खुशखबरी !!

नमस्कार दोस्तों…जैसा की हम सभी जानते है की हमारे जीवन में आने वाली सभी परेशानियों का मुख्य कारण ग्रहों की चाल होता है। इसी चाल के कारण हम लोग अपने जीवन में कई तरह के बदलाव देखते है।

 

इन बदलाव के कारण सुख दुःख हानि लाभ आदि का सामना हमको अपने जीवन में करना पड़ता है। ज्योतिष के जानकार बताते है की ग्रहों की चाल के कारण ऐसे योग बन रहे है की 21जनवरी से इन राशियों का नसीब कमल के फूल की तरह खिलने वाला है। इन राशियों के बारे में हम आपको नीचे बता रहे है।

आप को जानकारी के लिए बता दें कि हमारे जीवन में ज्योतिष शास्त्र को बहोत ही महत्व दिया गय़ा है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इन लोगों के जीवन में धर्म से जूडी हुई कोई भी समस्याएं नहीं होंगी। साथ ही साथ लंबे समय से चली आ रही समस्याओं से भी छूटकारा मिल जाएगा और किस्मत का साथ पूरा होगा। तो आइए उन राशियों के बारे में विस्तार से जानते है।

(1) कुंभ और कर्क
आप को जानकारी के लिए बता दें कि इन दो राशियों के जातकों को इस राशि के लोगों की आय में वृद्धी होगी, लेकिन काम बहुत ज्यादा करना पड़ेगा। दक्षिण क्षेत्र यात्रा का योग भी बनेगा।

कई जगहों पर स्वयं को कमजोर महसूस करेंगे। परिवार के लोग साथ देंगे। इस समयावधि के दौरान आपकी किस्मत आसमान की बुलंदियों तक आपको पहुंचा सकती है। पुराने अटके हुए काम पूरे होंगे, साथ ही हर कार्य में सफलता मिलेगी।

(2) तुला और वृश्चिक
प्राप्त जानकारी के अनुसार इन राशि के जातकों का धनलाभ होने के कारण आपका मन प्रसन्न रहेगा। मानसिक आनंद की प्राप्ति होगी। महीने के अंत यानि 25 तारीख के बाद अचानक बड़ा धनलाभ होने के योग बन रहे हैं।

व्यापार में नए प्रयोग करेंगे। राजनीति के क्षेत्र में लाभ के योग हैं। इस पूरे महीने इस राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति अत्यधिक मजबूत बनी रहेगी। पुराने कर्जे से पीछा छूट जाएगा।

21 तारीख चन्द्र ग्रहण की अंधेरी काली रात, चमका सकती है इन 5 राशियों की किस्मत !!

नमस्कार दोस्तों…आप तो जानते ही होंगे कि हमारे हिन्दू धर्म में ज्योतिष शास्त्र को बहोत ही मान्यता दी गई है। हम अपने सारे काम ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ही करते है।

 

आज हम आप को इस आर्टिकल में 21 तारीख यानि आज की चन्द्र ग्रहण की काली रात को इन 5 राशियों की किस्मत बदलने वाली है। इस के बारे में बताने वाले है। तो आइए इस खबर के बारे में विस्तार से जानते है।

आप को जानकारी के लिए बता दें कि इस चन्द्र ग्रहण की रात से बच्चों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए आप को कई सारे अवसर प्राप्त होंगे। इन अवसरों को आप अपने हाथों से ना जाने दे। राजयोग बनने से इन राशि के जातकों के जीवन में अच्छे दिनों की शुरुआत होने वाली है।

अब आपके हर बिगड़े काम बनने लगेंगे और आप अपनी जीवन में अपार सफलता प्राप्त करेंगे। भौतिक सुखों की प्राप्ति होगी। उधार दिया हुआ धन वापस मिलने के योग बन रहे। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें।पारिवारिक वातावरण खुशहाल रहेगा। मित्रों और स्नेहीजनों के साथ आनंद में समय व्यतीत होगा।

संतान की तरफ से शुभ समाचार मिलने के योग बन रहे हैं, विद्यार्थी वर्ग के जातकों के लिए बता दें कि उन्हें परीक्षा में सफल होने का 100 फ़ीसदी योग बन रहा है। फिलहाल किसी अजनबी पर आंख मूंदकर विश्वास ना करें। आपका पुराना फसा पैसा अचानक मिल सकता है। आने वाले समय में आप ज्यादा से ज्यादा समय अपने परिवार के साथ बिताए।

इस समय आप जितना मेहनत करेंगे आपको उतना ही ज्यादा फायदा होगा। लंबे समय बाद आप शारीरिक और मानसिक शांति महसूस करेंगे। दुष्टजनों से सावधान रहें, हानि पहुंचा सकते हैं। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। कहीं से बुरी खबर मिल सकती है।

आप को जानकारी के लिए बता दें कि वो 5 राशि मिथुन, कन्या, मेष, मकर और कुंभ है। आप आप की राशि इन में से एक है तो आप भाग्यशाली बन सकते है।

इन 5 कैदियों की अजीबोगरीब अंतिम इच्छा, नंबर 4 सबसे हटके !!

नमस्कार दोस्तों…आप तो जानते ही होंगे कि जो हमारे मन में आता है वही हम करते है। हम अपनी इच्छा के विरुद्ध बहोत ही कम कार्य करते है। हमारी इच्छा के विरुद्ध कार्य करना ना करने के ही बराबर होता है।

 

ऐसे में कुछ लोग ऐसे भी होते है। जो जिंदगी के किसी भी मोड पर हो, लेकिन उन का स्वभाव एक ही होता है। जी हां यह सच्चाई है। आज हम आप को इस आर्टिकल में ऐसे में 5 केदियों की अजीबोगरीब इच्छा के बारे में बताने वाले है। जिसे पढकर आप भी हैरान रह जाएंगे। तो आइए इस खबर के बारे में विस्तार से जानते है।

(1) जॉन वेने गैसी की अंतिम इच्छा


आप को जानकारी के लिए बता दें कि जॉन वेने गैसी को अपनी पसंद की आखिरी इच्छा के लिए कहा गया, तो उन्होंने KFC का तला हुआ चिकन फ्राई, 12 तले हुए श्रिंप की पूरी बाल्टी और स्ट्रॉबेरी लाने को कहा। क्योंकि वह KFC रेस्तरां में प्रबंधक के पद पर भी रह चूके थे।

(2) धनंजय चटर्जी की अंतिम इच्छा


आप को बता दें कि इंडोनेशिया में ड्रग्स स्मगलिंग के केस में मौत की सजा पाने वाले धनंजय चटर्जी की अपनी आखिरी इच्छा थी कि वह जेल में डॉक्टर के पैर छूना चाहते है।

(3) विलियम बोनिन की अंतिम इच्छा


बता दें कि अंतिम इच्छा के रूप में विलियम बोनिन को कोका-कोला और पेप्सी की अठारह बोतलें और चॉकलेट आइस क्रीम के तीन जार मांगे थे, क्योंकि वह मधुमेह से मरना चाहता था और आखिरकार मधुमेह के घातक इंजेक्शन से मर गया था।

(4) वर्ड स्मिथ की अंतिम इच्छा


बता दें कि जेम्स एडवर्ड ने अपनी अंतिम इच्छा के रूप में गंदगी के ढेर के लिए कहा ताकि वह एक वूडू नामक अनुष्ठान कर सके और उनकी आखिरी इच्छा अस्वीकार कर दी गयी।

(5) रोनी ली गार्डनर की अंतिम इच्छा


रोनी ली की आखिरी इच्छा एक एप्पल पाई, स्टेक, लॉबस्टर टेल और वेनिला आइसक्रीम के साथ “द लॉर्ड्स ऑफ़ द रिंग्स” देखना पसंद किया था। उनकी यह इच्छा निश्चित रूप से पूरी कर दी गई थी।

शिवपाल का चुनाव चिन्ह देख अखिलेश की बढ़ी चिंता, धीमी पड़ सकती है साइकिल की रफ़्तार !!

नमस्कार दोस्तों..आप को बता दें कि अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के द्रारा नजर अंदाज होने पर अपनी खुद नई पार्टी बनाई है। वह ऐसे में हर मोर्चे पर अखिलेश यादव को हर तरफ से चित कर देना चाहते है।

 

लेकिन हाल फिलहाल अब तक शिवपाल यादव अखिलेश यादव की रणनीतियों से आगे नहीं बढ पाए है, क्योंकि मुलायम सिंह के रुप में शिवपाल को एक बहुत ही बडा और गहरा ढटका लग चूका है।

आशा है कि, शिवपाल सिंह यादव के समाजवादी सेकुलर मोर्चा को चुनाव में अभी तक आयोग की तरफ से राजनीति पार्टी का नाम और चुनाव चिन्ह भी नहीं मिला है। ऐसे में आशा है कि, रविवार को चुनाव समिति शिवपाल के समाजवादी सेकुलर मोर्चा को पार्टी का नाम और चुनाव चिन्ह दे सकती है।

इसी मुद्दे को लेकर एक बार फिर से उत्तर प्रदेश की राजनीतिक गलियारों में मुश्किलों का दौर तेज हो गया है। शिवपाल यादव अपनी पार्टी का नाम समाजवादी पार्टी की तरह देखना चाहते है। ऐसे में आशा है कि उनकी पार्टी का नाम प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया रखा जा सकता है।

इस के बाद उन्होंने जनता दल के पुराने चुनाव चिन्ह चक्र की मांग की है। उस से पुराने समाजवादियों को एक बार फिर से अपनी और लाया जा सकें। इस से अखिलेश यादव की मुश्किलें और भी बढ सकती है।

जानकारों का कहना है, कि चक्र का चुनाव चिन्ह शिवपाल की पार्टी को नहीं दिया जाएगा। ऐसे में शिवपाल ने अन्य चिन्ह के रूप में मोटरसाइकिल को चुना है, जो कि समाजवादी पार्टी के चुनाव चिन्ह साइकिल को बहुत बड़ा जवाब दे सकता है। ऐसे में शिवपाल यूपी के उन सभी सपा लोगों को समझाने में कामयाब हो जाएंगे।