स्टेशनों के नाम के अंत में क्यों लिखा होता है जंक्शन, टर्मिनल और सेन्ट्रल ? क्या आप जानते है ?

91

नमस्कार दोस्तों…आप तो जानते ही होंगे कि भारतीय रेलवे नैटवर्क विश्व का चौथे सबसे बडा रेल नैटवर्क है। आंकडों के मुताबिक भारतीय रेल एक दिन में लगभग 66,687 किलोमीटर दूरी तय करती है।

 

लेकिन आज हम इन सब पर नहीं बल्कि रेलवे स्टेशनों के नाम के अत में जंक्शन, टर्मिनल, सेंट्रल क्यों लिखा जाता है? इस के बारे में बताएंगे।

रेलवे स्टेशन के अंत में क्यों लिखा होता है टर्मिनल ?
आप को बता दें कि किसी रेलवे स्टेशन के नाम के अंत में टर्मिनल लिखा हो तो इस का मतलब होता है कि आगे रेलवे ट्रेक नहीं है। यानि ट्रेन जिस दिशा से आई है वापस उसी दिशा में जाएगी।

टर्मिनस को टर्मिनल भी कहा जाता है। इसका मतलब यह ऐसे स्टेशन से है। जहां ट्रेन आगे नहीं जाती बल्कि वापस उसी दिशा में लौट जाती है। बता दें कि देश में फिलहाल 27 ऐसे रेलवे स्टेशन पर टर्मिनल लिखा हुआ है।

रेलवे स्टेशन के अंत में क्यों लिखा होता है सेंट्रल ?
बता दें कि रेलवे स्टेशन के अंत में सेट्रंल लिखे होने का मतलब होता है कि उस शहर में एक से अधिक रेलवे स्टेशन है। जिस रेलवे स्टेशन के अंत में सेंट्रल लिखा हो वह उस शहर का सबसे पुराना रेलवे स्टेशन होता है।

रेलवे स्टेशन के अंत में सेंट्रल लिखे होने का दूसरा मतलब ये भी है कि यह उस शहर का सबसे अधिक व्यस्त रेलवे स्टेशन है।

रेलवे स्टेशन के अंत में क्यों लिखा होता है जंक्शन ?
आप को बता दें कि रेलवे स्टेशन के अंत में जंक्शन क्यों लिखा होता है। किसी स्टेशन के नाम के अंत में जंक्शन लिखे होने का मतलब कि उस स्टेशन पर ट्रेन आने के लिए 3 से अधिक रास्ते है।

यानि एक रास्ते से ट्रेन आ सकती है और दो अन्य रास्तों से ट्रेन जा सकती है। इसलिए ऐसे स्टेशन के अंत में जंक्शन लिखा होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here