शाहजहांपुर में मंदिर तोडने पहुंची मशीनों पर दिखा बजरंगबली का गुस्सा, उसके बाद जो हुआ वो जानकर आप हैरान रह जाएंगे !!

149

नमस्कार दोस्तों…आए दिन आप और हम कुछ न कुछ नया सुनते रहते है। कहीं ना कहीं कोई ना कोई घटना हुआ करती है। जिस के बारे में कोई भी अगर जान जाएगा तो हैरान रह जाएगा। कई घटनाएं तो ऐसी भी होती है। जिस पर विश्वास करना बहुत ही मुश्किल होता है।

 

आज हम आप को इस आर्टिकल में जिस घटना के बारे में बताने जा रहे है। उस पर आप विश्वास नहीं करेंगे। बता दें कि शाहजहांपुर में यह घटना घटित हुई है। जिस के बारे में जानकर आप के होश उड जाएंगे। तो आइए इस घटना के बारे में विस्तार से जानते है।

आप तो जानते ही होंगे कि हर कोई किसी न किसी भगवान का पुजारी होता है। भक्त अपने भगवान को खुश करने की हर वो कोशिश करता है। कि जिस से भगवान प्रसन्न हो जाए।

बता दें कि बीते कुछ दिन पहले शाहजहांपुर में एक ऐसा ही मामला सामन आया है। जहां पर सरकार के तरफ से भेजे गए ठेकेदारों और कर्मचारियों के होंश उडा दिए।

बता दें कि असल में बात यह है कि शाहजहांपुर में एक हनुमान मंदिर बना हुआ है। जहां पर लोग पूजा अर्चना करते है। उस मंदिर को और भी चौडा करने कि लिए और बनाने के लिए हनुमान जी की प्रतिमा को हटाया जाना था।

पर इस काम के लिए जैसे ही जेसीबी मशीन आयी वह तुरंत खराब हो गई। जेसीबी को खराब होती देख सब परेशान रह गए।

कहा जाता है कि हनुमान जी का यह मंदिर 130 साल पुराना हो चूका है। इस मंदिर को लोग संकट मोचन हनुमान के नाम से जाने जाते है। यह मंदिर शाहजहांपुर के कचियानी खेडा में बना हुआ है।

इस के बाद ठेकेदार ने फिर एक दूसरी मशीन मंगवाई। जैसे ही उस मशीन द्रारा दीवाल तोडने की कोशिश की। वैसे ही उस मशीन का पट्टा टूट गया। इसे देखकर सारे कर्मचारियों और ठेकेदारों के हाथ पैर फूल गए। लेकिन मंदिर का कुछ भी ना कर सके। और हाथ जोडकर वहां से चले गए औऱ हार मान ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here