बीमार हुए पिता तो घर चलाने के लिए ऐसा काम करने लगी 21 साल की बेटी … जानकर चौक जरुर जायेंगे

319

जापान में रहने वाली एक महिला ट्रक ड्राइवर इन दिनों काफी सुर्खियों में छाई हुई है। वहां के लोग इसे दुनिया की सबसे खूबसूरत ट्रक ड्राइवर भी कहते हैं।

इस लड़की ने अपने पिता की तबीयत खराब होने के बाद उनका ट्रक चलाना शुरू कर दिया और अब वो अपने घर से ज्यादा वक्त अपने 12 पहियों वाले ट्रक में बिताती है। उसका मानना है कि आने वाले वक्त में ये फील्ड पुरुषों के लिए नहीं रहेगी।

ये स्टोरी जापान में रहने वाली एक लड़की रिनो सासाकी (21) की है। जिसे लोग दुनिया की सबसे खूबसूरत ट्रक ड्राइवर भी कहते हैं।

रिनो 12 पहियों वाला ट्रक चलाती है और एक साल में करीब सवा तीन लाख किलोमीटर ड्राइव कर लेती है। वो अपने घर से ज्यादा वक्त अपने ट्रक में गुजारती है। कुछ साल पहले तक रिनो जापान का परंपरागत डांस किमोनो सिखाने का काम करती थी, और अपने काम से बेहद खुश भी थी।

लेकिन जब उसके पिता की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई और वो बिस्तर पर आ गए, तो घर के हालात संभालने के लिए उसे टीचिंग का काम छोड़ना पड़ा। रिनो की मां और उसके दोस्तों ने उसके ड्राइवर बनने का सख्त विरोध किया था, लेकिन फिर भी उसने अपना फैसला नहीं बदला।

अब वो अपने पिता का वॉल्वो कंपनी का 12 पहियों वाला ट्रक चलाती है, और उसके जरिए फल-सब्जियां लाने ले जाने का काम करती है।

रिनो के बेहद ग्लैमरस फोटोज की वजह से लोग उसे दुनिया की सबसे खूबसूरत ट्रक ड्राइवर भी कहते हैं। अपनी तारीफ को लेकर रिनो का कहना है कि ‘इससे मुझे बेहद खुशी मिलती है, लेकिन लोग ये नहीं जानते कि मैं काफी ज्यादा सख्त भी हूं।’

रिनो का कहना है कि अबतक सिर्फ मर्दों के लिए माने जाने वाली इस फील्ड में उतरकर मुझे बहुत मजा आ रहा है। मेरे पिता को भी मुझ पर बेहद गर्व होता है। सबसे खास बात ये है कि ट्रक की छोटी-मोटी समस्याओं को वो खुद ही ठीक भी कर लेती है।

रिनो को लगता है कि उसकी स्टोरी अन्य जापानी महिलाओं को भी ट्रांसपोर्ट इंडस्ट्री में उतरने के लिए प्रेरित करेगी। अपने आगे के प्लान के बारे में बताते हुए रिनो ने कहा कि वो आगे चलकर महिला ट्रक ड्राइवर्स के लिए एक क्लोदिंग ब्रांड लॉन्च करना चाहती है।

क्लोदिंग ब्रांड के पीछे उसका कहना है कि मेरे जैसी कम हाइट वाली लड़कियों के लिए ड्राइविंग के दौरान पहने जाने वाले कपड़े नहीं मिलते, इसलिए मैं खुद का ब्रांड लॉन्च करूंगी। उसका मानना है कि आगे चलकर ये फील्ड पुरुषों के लिए नहीं रह जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here